शास्त्री के शासनकाल में सेना ने पाकिस्तान के लाहौर में भी फहरा दिया था तिरंगा

0

भारत के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री क पुण्यतिथि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। पीएम मोदी ने लिखा-शास्त्री जी को उनकी पुण्य तिथी पर हम श्रद्धांजलि देते हैं उनकी निर्दोष सेवा और साहसी नेतृत्व को आने वाली पीढ़ियों के लिए याद किया जाएगा। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इस मौके पर उन्हें याद किया।

आपको बता दें कि लाल बहादुर शास्त्री के शासनकाल में 1965 का भारत पाक युद्ध शुरू हो गया। इससे तीन वर्ष पूर्व चीन का युद्ध भारत हार चुका था। शास्त्रीजी ने अप्रत्याशित रूप से हुए इस युद्ध में नेहरू के मुकाबले राष्ट्र को उत्तम नेतृत्व प्रदान किया और पाकिस्तान को करारी शिकस्त दी। इसकी कल्पना पाकिस्तान ने कभी सपने में भी नहीं की थी।

ठीक 51 साल पहले 1965 में लाल बहादुर शास्त्री के शासनकाल में भारतीय सेना ने पाकिस्तान के लाहौर में भी तिरंगा फैहरा दिया था। उस समय राजस्थान पाली के पराक्रमी ब्रिगेडियर हरिसिंह भारतीय सेना का नेतृत्व कर रहे थे। तब उन्होंने लाहौर के पुलिस थाने पर तिरंगा फहराया और पिकिस्तान के सैनिकों के हार मारने के बाद ही वापस भारत लौटे।

उजबेकिस्तान की राजधानी ताशकंद में पाकिस्तान के राष्ट्रपति अयूब ख़ान के साथ युद्ध समाप्त करने के समझौते पर हस्ताक्षर करने के पश्चात 11 जनवरी सन्‌ 1966 को इस महान पुरुष का हृदयगति रुक जाने से निधन हो गया। आपकी सादगी, देशभक्ति और ईमानदारी के लिये मरणोपरान्त आपको ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया गया।

Leave a Reply